Sunday, 29 April 2012

436_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

नानक जी कहते हैं-
संगी साथी चले गये सारे कोई न निभियो साथ।
कह नानक इह विपत में टेक एक रघुनाथ।।
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...