Monday, 6 October 2014

1257_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU



मुश्किलें दिल के इरादे आजमाती हैं। स्वप्न के परदे निगाहों से हटाती हैं।।
हौसला मत हार गिरकर ओ मुसाफिर ! ठोकरें इन्सान को चलना सिखाती हैं।।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...